IELTS In Hindi-IELTS की पूरी जानकारी

6 Min. Read

IELTS In Hindi. IELTS full form is – इंटरनेशनल इंग्लिश लैंग्वेज टेस्टिंग सिस्टम है। यह टेस्ट आपकी इंग्लिश लैंग्वेज की कुशलता का आकलन करता है। यदि आप उन देशों, जहाँ ऑफिसियल एवं आम बोलचाल की भाषा इंग्लिश है, में स्टडी, वर्क या प्रवास(Migration) के लिए जाना चाहते है तो आपके पास IELTS में अच्छा स्कोर होना चाहिये। IELTS में आप पास या फ़ैल नहीं होते है। इसमें आपको 1 (नॉन यूजर) से लेकर 9 (एक्सपर्ट यूजर) तक बैंड मिलते है।

1. IELTS Academic एवं IELTS General Training

IELTS एग्जाम दो प्रकार का होता है। IELTS अकादमिक एवं IELTS जनरल ट्रेनिंग। दोनों ही प्रकार के टेस्टों में आपके इंग्लिश लैंग्वेज के सुनने, पढ़ने, लिखने एवं बोलने(Listening, Reading, Writing and Speaking) की कुशलता का आकलन किया जाता है।

  • IELTS Academic – यदि आप विदेश में हायर स्टडीज या प्रोफेशनल रजिस्ट्रेशन के लिए जाना चाहते है तो आपको यह टेस्ट देना होता है।
  • IELTS General Training – यदि आप ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, न्यूजीलैंड एवं यूके में प्रवास(Migration) के लिए या सेकेंडरी एजुकेशन के लिए जाना चाहते है तो आपको यह टेस्ट देना होता है।

2. IELTS For Migration – माइग्रेशन के लिये IELTS

यदि आप ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, न्यूजीलैंड एवं यूके(UK) में स्टडी, वर्क या माइग्रेशन के लिए जा रहें है तो आपको अपनी इंग्लिश लैंग्वेज की कुशलता को प्रूफ(proof) करना होता है। ये सभी देश IELTS सर्टिफिकेट को आपकी इंग्लिश लैंग्वेज की कुशलता के प्रूफ के रूप में स्वीकार करते है। In Short यदि आप इन देशों में माइग्रेशन के लिए जा रहें है तो आपके पास IELTS में अच्छा बैंड स्कोर होना चाहिये।

Note – सभी देशों के अपने अलग-अलग नियम है। इसलिए लेटेस्ट इनफार्मेशन के लिए संबंधित देश की ऑफिसियल गवर्नमेंट वेबसाइट देखें।

3. IELTS For Study – स्टडी के लिये IELTS

दुनियाभर के लगभग 10,000 एजुकेशनल एवं ट्रेनिंग प्रोवाइडर्स IELTS सर्टिफिकेट को आपकी इंग्लिश लैंग्वेज में कुशलता के प्रूफ के रूप में स्वीकार करते है। कुछ देशों की यूनिवर्सिटीज जहाँ ऑफिसियल लैंग्वेज इंग्लिश नहीं है। परन्तु वहाँ स्टडी इंग्लिश लैंग्वेज में ही होती है, IELTS स्कोर को स्वीकार करते है।

4. IELTS For Work – वर्क के लिए IELTS

दुनियाभर की बहुत सी आर्गेनाइजेशनस IELTS सर्टिफिकेट को आपकी इंग्लिश लैंग्वेज में कुशलता के प्रूफ के रूप में स्वीकार करते है।

Who accepts IELTS scores?

5. IELTS On Paper or Computer

IELTS एग्जाम दोनों ही फॉर्मेट On Paper एवं Computer Delivered में होता है। आप अपनी सुविधानुसार किसी भी फोर्मेट में दे सकते है।

  • Paper Based IELTS – पेपर बेस्ड टेस्ट में आपको ऑफिसियल IELTS टेस्ट सेंटर पर पेपर एवं पेन या HB पेंसिल का प्रयोग करते हुए अपने उत्तर लिखने होते है। हालाँकि स्पीकिंग टेस्ट Face to Face होता है।
  • Computer Delivered IELTS – कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट में आपको रीडिंग, लिसनिंग एवं राइटिंग टेस्ट कंप्यूटर पर देने होते है। स्पीकिंग टेस्ट कंप्यूटर पर नहीं होता है। स्पीकिंग टेस्ट Face to Face होता है।
IELTS In Hindi

6. IELTS In Hindi Test Format – टेस्ट फॉर्मेट

जैसा की मैंने आपको बताया था कि IELTS टेस्ट दो प्रकार का होता है – Academic एवं General Training. दोनों ही प्रकार के टेस्टो में लिसनिंग एवं स्पीकिंग टेस्ट एक जैसे ही होते है। परन्तु रीडिंग एवं राइटिंग टेस्ट अलग-अलग होते है।

लिसनिंग, रीडिंग एवं राइटिंग टेस्ट एक ही दिन में बिना किसी अंतराल के पुरे करने होते है। हालाँकि स्पीकिंग टेस्ट एक हफ्ते पहले या एक हफ्ते बाद में दिया जा सकता है।

IELTS In Hindi – टोटल टेस्ट टाइम 2 घंटे 45 मिनट होता है।

6.1 IELTS Listening Test – IELTS लिसनिंग टेस्ट

यह टेस्ट 30 मिनट का होता है। इसमें आपको नेटिव इंग्लिश स्पीकर की चार रिकॉर्डिंग्स सुनाई जाती है। आपको इन रिकॉर्डिंग्स के आधार पर लगभग 40 प्रश्नों के उत्तर देने होते है। इसमें चार सेक्शन होते है तथा प्रत्येक सेक्शन में लगभग 10 प्रश्न पूछे जाते है।

6.2 IELTS Academic Reading Test – IELTS अकादमिक रीडिंग टेस्ट

यह टेस्ट 60 मिनट का होता है। इसमें आपको तीन रीडिंग पैराग्राफ्स दिए जाते है एवं लगभग 40 प्रश्न पूछे जाते है। प्रत्येक प्रश्न एक अंक का होता है। सामान्यतः पैराग्राफ्स किसी बुक्स, न्यूज़ पेपर, मैगज़ीन आदि से लिए जाते है। पैराग्राफ्स का सलेक्शन इस प्रकार किया जाता है की नॉन स्पेशलिस्ट यूजर भी उनको समझ सके एवं प्रश्नों के उत्तर दे सके।

6.2A IELTS General Reading Test – IELTS जनरल रीडिंग टेस्ट

यह टेस्ट 60 मिनट का होता है। इसमें आपको तीन रीडिंग पैराग्राफ्स दिए जाते है एवं लगभग 40 प्रश्न पूछे जाते है। प्रत्येक प्रश्न एक अंक का होता है। सामान्यतः पैराग्राफ्स किसी बुक्स, न्यूज़ पेपर, मैगज़ीन आदि से लिए जाते है। इसमें तीन सेक्शन होते है – पहला Social Survival, दूसरा Workplace Survival एवं तीसरा General Reading का होता है।

6.3 IELTS Academic Writing Test – IELTS अकादमिक राइटिंग टेस्ट

यह टेस्ट भी 60 मिनट का होता है। इसमें आपको दो टास्क पुरे करने होते है। पहले टास्क में आपको किसी ग्राफ, टेबल, चार्ट, या डायग्राम आदि को देखकर जो इनफार्मेशन आपको मिलती है उसको Summarise एवं अपने शब्दों में Explain करना होता है। दूसरे टास्क में आपको किसी दिए गए टॉपिक पर Essay लिखना होता है।

6.3A IELTS General Writing Test – IELTS जनरल राइटिंग टेस्ट

यह टेस्ट भी 60 मिनट का होता है। इसमें आपको दो टास्क पुरे करने होते है। पहले टास्क में आपको एक Situation दी जाती है एवं आपको उसके आधार पर एक लेटर लिखना होता है। दूसरे टास्क में आपको किसी दिए गए टॉपिक पर Essay लिखना होता है।

6.4 IELTS Speaking Test – IELTS स्पीकिंग टेस्ट

इस टेस्ट में आपका एक Face to Face इंटरव्यू होता है। इस टेस्ट के लिए आपको लगभग 10-15 मिनट मिलते है।सभी स्पीकिंग टेस्ट रिकॉर्ड होते है। इस टेस्ट के भी तीन पार्ट होते है –

  • पार्ट 1 – इसमें एग्जामिनर आपको सिंपल इंटरव्यू प्रश्न पूछ सकता है। जैसे आपके खुद के बारे में, आपकी फैमिली के बारे में, एवं आपकी स्टडी या इंटरेस्ट के बारे में भी प्रश्न पूछ सकता है।
  • पार्ट 2 – इसमें आपको एक कार्ड दिया जाता है जिस पर एक टॉपिक लिखा होता है। आपको इस टॉपिक पर कुछ बोलना होता है। इसमें आपको तैयारी के लिए एक मिनट का समय मिलता है।
  • पार्ट 3 – यह पार्ट 2 का ही next भाग है। इसमें एग्जामिनर आपसे कुछ प्रश्न पूछता है।

To Download Sample Question Papers Clicks Here.

7. IELTS Band Scale – IELTS बैंड स्केल

IELTS एग्जाम में आप पास या फ़ैल नहीं होते है। परन्तु इसमें आपको 1 से लेकर 9 तक बैंड स्कोर मिलता है। बैंड स्कोर की डिटेल नीचे टेबल में दी गयी है।

BandSkill LevelDescription
9Expert Userइंग्लिश लैंग्वेज पर पूरी ऑपरेशनल कमांड है। एवं पूरी अंडरस्टैंडिंग है।
8Very Goodइंग्लिश लैंग्वेज पर पूरी ऑपरेशनल कमांड है। लेकिन कभी-2 गलतियां होती है।
7Good userइंग्लिश लैंग्वेज पर ऑपरेशनल कमांड है। लेकिन कभी-2 गलतियां होती है।
6Competent userइंग्लिश लैंग्वेज पर इफेक्टिव कमांड है। हालाँकि कुछ गलतियाँ एवं misunderstanding है। काम्प्लेक्स भाषा को समझ सकते है एवं इस्तेमाल कर सकते है।
5Modest userइंग्लिश लैंग्वेज पर पार्शियल कमांड है। हालाँकि अपने क्षेत्र में बेसिक कम्युनिकेशन कर सकता है।
4Limited userइंग्लिश लैंग्वेज में बेसिक कॉम्पिटेंस लिमिटेड है। बात समझने एवं समझाने में प्रॉब्लम आती है। कॉम्प्लेक्स भाषा का इस्तेमाल नहीं कर सकता।
3Extremely limited userकेवल कुछ सिचुएशन में ही अपनी बात समझा सकता है एवं समझ सकता है। कम्युनिकेशन में काफी ज्यादा Breakdowns है।
2Intermittent userइंग्लिश लैंग्वेज बोलने एवं लिखने में यूजर को बहुत परेशानी होती है।
1Non-userयूजर को कुछ शब्दों के आलावा इंग्लिश भाषा का ज्ञान नहीं है।
0Did not attempt the tesयूजर ने टेस्ट ही नहीं दिया।

8. How do I Register for IELTS – IELTS के लिये रजिस्ट्रेशन

IELTS एग्जाम लगभग 140 देशो में 1600 टेस्ट लोकेशन पर आयोजित किया जाता है। आप निम्न स्टेप्स को follow करके अपना टेस्ट बुक कर सकते है –

  • स्टेप 1Find the Nearest Test Location Here.
  • स्टेप 2 – IELTS के लिए रजिस्ट्रेशन करें। आप ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन कर सकते है।
  • स्टेप 3 – जब आपकी एप्लीकेशन प्रोसेस हो जायेगी तो आपका टेस्ट सेंटर आपको टेस्ट के लिये Date एवं Time भेज देगा। आपको दिए गए Date एवं Time पे टेस्ट के लिए उपस्थित होना होगा। सामान्यतः स्पीकिंग एवं राइटिंग टेस्ट एक ही दिन होते है। यदि आप चाहे तो 7 दिन के अंतराल में भी दे सकते है।

9. Getting Your Result – IELTS रिजल्ट

आपका रिपोर्ट कार्ड टेस्ट कम्पलीशन के 13 दिन बाद उपलब्ध हो जायेगा। आप यह रिपोर्ट कार्ड अपने टेस्ट सेंटर से प्राप्त कर सकते है या टेस्ट सेंटर आपको पोस्ट के द्वारा रिपोर्ट कार्ड भेज सकता है। 28 दिनों के लिये आप अपना रिपोर्ट कार्ड ऑनलाइन भी देख सकते है। ऑनलाइन देखने के लिए आपका टेस्ट सेंटर आपको एक लिंक प्रोवाइड करता है जिस पर आपका टेस्ट स्कोर उपलब्ध होता है।

In conclusion यदि आपको IELTS in Hindi से संबंधित यह पोस्ट अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिये। यदि आप personal  career counseling चाहते है तो मुझसे संपर्क कर सकते है।

Meanwhile, IELTS In Hindi के लिए आपके सुझाव और शिकायतें आमंत्रित है। कृपया निचे दिए गए कमेंट बॉक्स का उपयोग कर मुझसे संपर्क करें।

करियर गाइडेंस से संबंधित नवीन जानकारी अपने ईमेल बॉक्स में प्राप्त करने के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करे।

Leave a Comment